मैं मुस्लिम नहीं हूँ, मुझे सुबह अजान सुनकर उठना पड़ता है: सोनू निगम

कौन नहीं जानता हिन्दी फिल्मों के सुर सम्राट सोनू निगम को! उन्होंने अनेक इन्डि-पॉप एलबम बनाये है। हिन्दी के अलावा कन्नड़, उड़िया, तमिल, असमी, पंजाबी, बंगाली, मराठी और तेलुगु फ़िल्मों में भी सोनू निगम गा चुके हैं। क्या आपको पता है कि वो एक कलाकार भी हैं ! उन्होंने कुछ हिंदी फिल्मों में भी काम किया है। ३० जुलाई १९७३, फरीदाबाद में जन्मे सोनू निगम सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक की १३ फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार, २ ज़ी सिने, २ स्टार स्क्रीन, १ अप्सरा फ़िल्म एवं टेलीविज़न प्रोडूसर्स गिल्ड, १ राष्ट्रीय फ़िल्म, और २ आइफा (अंतर्राष्ट्रीय भारतीय फ़िल्म अकादमी) पुरस्कार जीता है।
अजान को लेकर विवादित बयान देकर और धार्मिक रीति रिवाज से होने वाली परेशानियों को उजागर करके सोनू निगम ख़बरों में छा गए हैं! ट्वीटर पर इस विवादित बयान से वह खुद ट्रॉल हो गए! उनकी  बयान का कुछ लोगों ने पक्ष लिया और कई लोगों ने निंदा की। मजे की बात यह थी की कुछ लोगों को सरनेम का अंतर समझ नहीं आया और इसी वजह से सोनू निगम की जगह सोनू सूद को ट्वीटर पर ट्रॉल करने लगे!
सोनू निगम की ट्वीट्स:
सोमवार की सुबह सोनू निगम ने एक के बाद एक कई सारे ट्वीट किये। उन्होंने पहला ट्वीट में लिखा: “ईश्वर सभी पर कृपा करें। मैं मुस्लिम नहीं हूँ और मुझे सुबह सुबह अजान की आवाज़ सुनकर उठना पड़ता है। यह जबरदस्ती की धार्मिकता भारत में कब ख़त्म होगी?”
दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा: “और जिस समय मोहम्मद ने इस्लाम बनाया तब बिजली नहीं थी। फिर एडिसन के आविष्कार के बाद इस शोरगुल की क्या जरूरत है?”
तीसरे ट्वीट में उन्होंने कहा: “मुझे नहीं लगता है कि कोई मंदिर या गुरुद्वारा बिजली का इस्तेमाल उन लोगों को जगाने के लिए करते हैं जो उस धर्म का पालन नहीं करते। फिर क्यों? ईमानदार? सच?”
चौथी ट्वीट में उन्होंने कहा: “गुंडागर्दी है बस…”
The following two tabs change content below.
manoshi sinha
Manoshi Sinha is a writer, history researcher, avid heritage traveler; Author of 8 books including 'The Eighth Avatar', 'Blue Vanquisher', 'Saffron Swords'.

Comments

About the Author

manoshi sinha
manoshi sinha
Manoshi Sinha is a writer, history researcher, avid heritage traveler; Author of 8 books including 'The Eighth Avatar', 'Blue Vanquisher', 'Saffron Swords'.
error: Content is protected !!
Loading...

Contact Us